WealthDesk

SIP या एकमुश्त निवेश: आपके लिए कौन है बेहतर?

Read this article in English

अगर किसी के पास ज्यादा पैसा है तो उसे निवेश को लेकर वह अक्सर दुविधा में रहता है। दुविधा ये होती है कि पैसों का निवेश एसआईपी (SIP) में करे या किसी एकमुश्त (lump sum) योजना में। दरअसल, एक निश्चित समय के लिए SIP या एकमुश्त निवेश आपके दिमाग में मौजूद फंड और आपके वित्तीय लक्ष्य और आपकी इनसे संबंधित जानकारी पर निर्भर करता है।

अगर आप म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए नए हैं तो SIP बेहतर है। यह लंबे समय के निवेश के लिए फायदेमंद है। एक इक्विटी स्कीम में नियमित एसआईपी निवेश से आप अपने लक्ष्य के लिए पर्याप्त पूंजी जमा कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, मान लीजिए कि अपनी मासिक आय का एक हिस्सा बचाना चाहते हैं और चाहते हैं कि यह आपके बच्चे की उच्च शिक्षा के लिए समय के साथ बढ़ता जाए। इसके लिए इक्विटी एसआईपी में निवेश के लिए आप किसी फंड एडवाइजर की मदद ले सकते हैं।

लेकिन, मान लीजिए कि आपके पास एक्स्ट्रा कैश है। जैसे कि बोनस, संपत्ति की बिक्री या रिटायरमेंट फंड से आय, लेकिन आप दुविधा में हैं कि इसे कैसे निवेश किया जाए। ऐसे में आप डेब्ट या लिक्विड फंड में एकमुश्त राशि का उपयोग करके एकमुश्त निवेश पर विचार कर सकते हैं।

इसलिए, इक्विटी-उन्मुख योजनाओं के लिए एसआईपी की सिफारिश की जाती है, जबकि एकमुश्त निवेश डेट फंड के लिए बेहतर होता है। लेकिन जब एकमुश्त बनाम एसआईपी के संबंध में बाजार की स्थितियों की बात आती है, तो बाजार ऊपर की ओर चलने की स्थिति नजर आती है और उसके लंबे समय तक ऐसे चलने की संभावना हो तो आप एकमुश्त निवेश कर सकते हैं। दूसरी ओर, एसआईपी एक अस्थिर बाजार चरण के लिए सबसे उपयुक्त हैं।

कैसे काम करता है SIP

एसआईपी के जरिए निवेश करना आसान है। आपको केवल राशि की योजना बनाने की आवश्यकता है, चाहे वह कितनी भी बड़ी या छोटी क्यों न हो। अगला कदम उस फंड का चयन करना है, जिसमें आप निवेश करना चाहते हैं। इसके लिए आपको अपने खाते में एक निश्चित रकम रखनी होती है। क्योंकि अनुमानित व्यापार मूल्य यानी जितने पैसे आपने SIP के लिए फिक्स किए हैं वो आपके खाते (बचत) से हर महीने काट लिया जाता है। यह बाजार के उतार-चढ़ाव की परवाह किए बिना व्यवस्थित और पुश किए गए ट्रेड आपको फंड में व्यस्त रखेंगे। जब आप किसी म्युचुअल फंड में निवेश करते हैं, तो उस तारीख को फंड के NAV के आधार पर आपके नाम के लिए कुछ निश्चित मात्रा में इकाइयां आरक्षित होती हैं। बाजार में गिरावट के दौरान NAV कम होने पर आपको ज्यादा यूनिट्स का फायदा मिलता है।

वर्चुअल डेट सिंडिकेशन सर्विस Paisabazaar.com के प्रमुख साहिल अरोड़ा बताते हैं कि म्यूचुअल फंड निवेश के बाजार समय के लिए व्यापक आर्थिक परिस्थितियों, वैश्विक राजनीतिक प्रवृत्तियों, नीति प्रभाव, मौलिक मूल्यांकन, तकनीकी विश्लेषण आदि की पूरी जानकारी की आवश्यकता होती है। एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने कहा कि ज्यादातर खुदरा निवेशकों को इन पर नजर रखना मुश्किल हो सकता है। क्योंकि एसआईपी नियमित और स्वचालित निवेश सुनिश्चित करता है, एसआईपी मोड चुनने से बाजार में सुधार के दौरान निवेश लागत औसत हो जाएगी, निवेशकों को उनके इक्विटी फंड निवेश के समय की समस्या से बचाएगी।

पैसे की एक बड़ी राशि का निवेश

यदि आप अपनी आय का एक बड़ा हिस्सा म्युचुअल फंडों को देना चाहते हैं या यदि आपके पास एक अप्रत्याशित लाभ है जिसे आप म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहते हैं तो एकमुश्त निवेश पसंदीदा स्थान हो सकता है। इसके लिए आपको बस अपने फंड का चयन करना है और उस पैसे की गणना करनी है, जिसे आप उनमें निवेश करना चाहते हैं।

कम वक्त में अगर आप अपने वित्तीय लक्ष्यों (फाइनेंनसियल गोल) को प्राप्त करना चाहते हैं तो डेट फंड में निवेश करना उचित है। उदाहरण के लिए, यदि आप 2-3 साल निवेश करने की योजना बना रहे हैं, तो पूंजी सुरक्षा आवश्यक है और डेट फंड आमतौर पर निश्चित आय वाले निवेश सुरक्षित होते हैं।

जब बाजार और स्टॉक का मूल्यांकन कम होता है। बाजार में कीमतें गिर रही ऐसे में ज्यादातर लोग म्यूचुअल फंड में एकमुश्त निवेश करना चुनते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि कम एनएवी वाले म्युचुअल फंड बाजार के ऊंचे होने पर बेचने के लिए अधिक यूनिट हासिल कर सकते हैं।

कौन सा निवेश बेहतर होगा, एसआईपी या एकमुश्त?

चाहे आप इक्विटी शेयरों में एसआईपी के साथ निवेश करें या डेट फंड में एकमुश्त निवेश करें, दोनों के अपने फायदे हैं। हालांकि, एकमुश्त निवेशकों को बाजार की चाल पर लगातार नजर रखनी होती है। इस बीच, एसआईपी निवेशक आराम कर सकते हैं क्योंकि उनकी संपत्ति शातिर बाजार लूप (vicious market loop) में रहती है।

ये हैं एकमुश्त भुगतान के फायदे:

महत्वपूर्ण वित्तीय निवेश(Significant financial investment)

दीर्घकालिक उपयोग के लिए उपयुक्त(Suitable for long-term use)

सुविधाजनक एकमुश्त भुगतान(Convenient one-time payment)

एसआईपी के फायदे:

निवेश विवेक(Investment prudence)

जोखिम न्यूनीकरण(Risk mitigation)

अनुकूलन क्षमता(Adaptability)

कोई परेशानी नहीं(No hassles)

एकमुश्त निवेश बनाम एसआईपी

पैरामीटर-एसआईपी- एकमुश्त राशि

नकदी प्रवाह- नियमित- केवल एक बार

निवेश की लागत- कम लेकिन नियमित- एकमुश्त निवेश, लेकिन उच्च

लचीलापन- बहुत अधिक- बहुत कम

जोखिम उठाने की क्षमता- एसआईपी जोखिम कम से मध्यम- मध्यम से उच्च

निष्कर्ष

साफ तौर पर एसआईपी और एकमुश्त निवेश का तुलना जटिल है। दरअसलस, उनके बीच हमेशा एक ‘और’ होता है क्योंकि वे साथ-साथ चलते हैं। वहीं, SIP या एकमुश्त निवेश दोनों के अपने-अपने फायदे और नुकसान हैं। वे अलग-अलग अवधि के दौरान शेयरधारकों के लिए काम करते हैं। यह बताना मुश्किल है कि कौन सा अधिक लाभदायक है।

हालाँकि, किसी को SIP और एकमुश्त के बीच के अंतर को समझना चाहिए। ऐसे में कंपाउंडिंग की शक्ति के लंबे समय के फायदे को पाने के लिए जल्दी निवेश करना शुरू कर सकते हैं।

कार्डिनल नियम में अपने वित्तीय लक्ष्यों के आधार पर एक निवेश विकल्प (एसआईपी या एकमुश्त निवेश) चुनना सबसे अच्छा है। और आप अपने निवेश पर मनचाहा रिटर्न कमा सकते हैं! WealthBaskets में निवेश करके अपनी SIP यात्रा शुरू करें

सामान्य प्रश्न

म्यूचुअल फंड में एसआईपी क्या है?

म्यूचुअल फंड में निवेश करने का सबसे उपयुक्त तरीका एक SIP या व्यवस्थित निवेश योजना है। SIP के जरिए आप नियमित अंतराल पर एक निश्चित रकम निवेश करके समय के साथ अपने निवेश की गणना कर सकते हैं। आपकी जरूरतों के अनुसार SIP मासिक, द्वि-वार्षिक, साप्ताहिक या त्रैमासिक हो सकती है।

SIP को ऑनलाइन कैसे रोकें?

SIP को ऑनलाइन रोकने के लिए पहले फंड हाउस के साथ अपने खाते में लॉग इन करना होगा। इसके बाद फिर ‘स्टॉप एसआईपी’ फॉर्म जमा करके रोक सकते हैं। आप अपने घर बैठे कुछ ही क्लिक से अपना SIP स्टॉप करा सकते हैं। ये जनरली मोबाइल एप से आसानी से हो जाते हैं।

कौन सा निवेश बेहतर होगा, SIP या एकमुश्त?

एकमुश्त या SIP दोनों के अपने फायदे और नुकसान हैं। वे अलग-अलग अवधि के दौरान शेयरधारकों के लिए काम करते हैं। इसलिए, एक निवेशक केवल एक प्रकार के निवेश विकल्प का चयन नहीं कर सकता है। हालांकि, किसी को SIP और एकमुश्त के बीच के अंतर को समझना चाहिए। कंपाउंडिंग की शक्ति के लंबे समय के लाभों को प्राप्त करने के लिए जल्दी निवेश करना शुरू करें। अपने वित्तीय लक्ष्यों के आधार पर एक निवेश विकल्प (एसआईपी या एकमुश्त निवेश) चुनना सबसे अच्छा है।

SIP या एकमुश्त निवेश: आपके लिए कौन है बेहतर?

WealthDesk
SIP या एकमुश्त निवेश: आपके लिए कौन है बेहतर?

Reach out to the author

avtar
WealthDesk

Hot topics